Display type must grab our attention in order for its message to get across. Quantum Devanagari is a very extended display face, and its forms are impossible to ignore. It features wide letterforms with long, arching curves; these keep text set in Quantum Devanagari from looking too technical. Marks above and below the base characters are simplified, and several consonants feature open counters. The family’s five weights each include 750 glyphs, which in turn supports all necessary Devanagari conjuncts and ligatures.

Typographica 2015

Selected and reviewed by Erin McLaughlin for Typographica's Favorite Typefaces of 2015
Family Name Quantum Devanagari
Designer(s) Hitesh Malaviya (Rocky)
Release Date March 9, 2015
Available Style Light, Regular, Medium, Semibold, Bold
Classification Display, Sans
Supported Languages Hindi, Marathi, Sanskrit

Want to try this font family?

You can request a free trial (Professionals) or an educational license (students) by submitting your details below. Once approved, we’ll send you the fonts by Email.

Professional Trial Licenses are valid upto 15 days. You will be notified (via email) prior to the License's expiration. These fonts can be used only for testing in potential projects or in non-commercial work. To use these fonts for commercial projects, the appropriate license must be purchased.

Select file
Drag and Drop
0%

Trial licenses are valid for the period of your educational career with the mentioned institution. You will be notified (via email) prior to the License's expiration These fonts can be used for Educational/non-commercial work only.

Alternatively, you can try or rent this family on Fontsand.

Quantum Devanagari
200 pts
200 pts
Go to
अाधुनिक
40 pts
40 pts
Go to
प्रत्येक व्यक्ति को ऐसे जीवनस्तर को प्राप्त करने का अधिकार है जो उसे और उसके परिवार के स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए पर्याप्त हो। इसके अन्तर्गत खाना, कपड़ा, मकान, चिकित्सा-सम्बन्धी सुविधाएं और आवश्यक सामाजिक सेवाएं अाज कल सम्मिलित हो रही हैं।
16 pts
16 pts
Go to
सभी को बेकारी, बीमारी, असमर्थता, वैधव्य, बुढ़ापे या अन्य किसी ऐसी परिस्थिति में आजीविका का साधन न होने पर जो उसके क़ाबू के बाहर हो, सुरक्षा का अधिकार प्राप्त है। ज़च्चा और बच्चा को खास सहायता और सुविधा का हक़ है। प्रत्येक बच्चे को चाहे वह विवाहिता माता से जन्मा हो या अविवाहिता से, समान सामाजिक संरक्षण प्राप्त होगा। प्रत्येक व्यक्ति को ऐसे जीवनस्तर को प्राप्त करने का अधिकार है जो उसे और उसके परिवार के स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए पर्याप्त हो। इसके अन्तर्गत खाना, कपड़ा, मकान, चिकित्सा-सम्बन्धी सुविधाएं और आवश्यक सामाजिक सेवाएं सम्मिलित हैं। सभी को बेकारी, बीमारी, असमर्थता, वैधव्य, बुढ़ापे या अन्य किसी ऐसी परिस्थिति में आजीविका का साधन न होने पर जो उसके क़ाबू के बाहर हो, सुरक्षा का अधिकार प्राप्त है। ज़च्चा और बच्चा को खास सहायता और सुविधा का हक़ है। प्रत्येक बच्चे को चाहे वह विवाहिता माता से जन्मा हो या अविवाहिता से, समान सामाजिक संरक्षण प्राप्त होगा। प्रत्येक व्यक्ति को ऐसे जीवनस्तर को प्राप्त करने का अधिकार है जो उसे और उसके परिवार के स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए पर्याप्त हो। इसके अन्तर्गत खाना, कपड़ा, मकान, चिकित्सा-सम्बन्धी सुविधाएं और आवश्यक सामाजिक सेवाएं सम्मिलित हैं।
I’m looking for a font for
Indian Type Foundry © 2016